वणिकी – व्यसन, विवशता, या व्यवसाय


शेयर बाजार में जो लोग आते हैं उनुको इन्हीं तीन वर्गों में विभाजित किया जा सकता है. कुछ लोग यहां महज शौक या लत के कारण आते हैं. कुछ लोगों की विवशता होती है और बहुत थोड़े लोग के लिए यह व्यवसाय होता है. आप किस वर्ग में आते हैँ ?

अगर आप के लिये यह व्यवसाय है तो मैं आपके किसी काम नहीं आ सकता क्योंकि आप वणिकी के गुरु हैं. मगर बाकी दोनों वर्गों के लिये मेरी कुछ उपादेयता हो सकती है ठीक उसी तरह जैसे Alcoholics Anonymous काम करता है.

Alcoholics Anonymous वैसे लोगों का समूह होता है जो अपनी शराब की लत छुड़ाने के लिये एक दूसरे की सहायता करते हैं. इस समूह में शामिल होने के लिये कोई शुल्क नहीं देना होता ना ही कोई शैक्षणिक अर्हता होती है ना उमर का कोई बन्धन. अगर आपको पीने की लत पड़ गई है और आप उससे छुटकारा चाहते हैं तो इस समूह में आ सकते हैं. इस समूह में वैसे लोग भी आते हैं जिन्होंने अपनी लत छोड़ने में सफलता पा ली होती है और अब वे दूसरे लोगों की सहायता या मार्गदर्शन करना चाहते हैं.

ठीक इसी तरह मैं वणिकी में अपने 40 वर्षों का अनुभव आपसे साझा करना चाहता हूं. अब आप पर है कि मेरे अनुभव से आप क्या लाभ उठा पाते हैं.

शुरु में ही मैंने बता दिया है कि जिन लोगों के लिये वणिकी (ट्रेडिंग) व्यवसाय है उनके लिये मेरी कोई उपादेयता नहीं है. पर जिनके लिये यह विवशता है या जिनके लिये यह व्यसन बन चुका है उनके लिये मैं जरुर कुछ कर सकता हूं.

मेरा मानना है कि वणिकी में अधिकतर लोग विवशता में ही आते हैं. अपनी आर्थिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये यह एक सहज मार्ग दिखता है उन लोगों को. अब उनमें से जो सफल हो जाते हैं उनका यह व्यवसाय बन जाता है और जो इसमें असफल होते हैं उनुमें से कई लोगों के लिये वणिकी व्यसन की समस्या बन जाती है.

तो क्या आप मेरे समूह में जुड़ना पसन्द करेंगे ? बिना किसी शुल्क, बिना किसी आश्वासन के. मैं आपको मछली देने की गलती नहीं करने वाला. हाँ आपको मछली मारना सिखा जरुर सकता हूं. क्योंकि 40 वर्षों से मैं यहीं झख मार रहा हूं! (झख का एक अर्थ मछली भी होता है.)

40 वर्षों में मैंने हजारो गलतियां की है. लाखों गॅवा चुका हूं. पर अब जीवन के उत्तरार्ध में मैं चाहता हूं कि अपने अनुभव आपसे साझा करूं. क्या पता मेरे अनुभव आपकी जिन्दगी बदल दें. क्या खरीदना है या क्या बेचना है मैं यह नहीं बताता. हाँ कब खरीदना है या कब बेचना है यह जरुर बताना चाहूंगा. उसके बाद आप क्या खरीदते हैं या क्या बेचते हैँ यह आप पर निर्भर करता हैं.

कुछ लोगों को यह प्रश्न उद्वेलित कर रहा होगा कि मैं क्यों आपको रीझा रहा हूं. बस मैं यही चाहता हूं कि अगर आर्थिक उपार्जन आपकी विवशता है तो आपकी सहायता कर सकूं कि किस दिशा में जाना है. और अगर यह व्यसन हो चुका है कि आप इस लत से छुटकारा नहीं पा रहे तो भी मैं आपकी कुछ सहायता कर सकता हूं.

Leave a Comment